[PDF] शनि चालीसा अर्थ सहित | Shri Shani Chalisa with Meaning in Hindi PDF

Shri Shani Chalisa with Meaning in Hindi PDF: इस पोस्ट के माध्यम से हम आपके साथ शनि चालीसा अर्थ सहित PDF शेयर करेंगे जिसे आप निशुल्क इसी पोस्ट में नीचे दिए गए डायरेक्ट डाउनलोड लिंक से डाउनलोड कर सकते है|

शनि देव, सनातन धर्म के अनुसार एक प्रमुख भगवन है जो बुराई का नष्ट करता है, और ऐसा माना जाता है कि शनि देव का पूजा करने से हमे बुरी शक्तिओं से मुक्ति मिलती है और ऐसा भी कहा जाता है कि जिसके ऊपर शनि देव का दुष्प्रभाव शुरू होता है उसे शनि देव बर्बाद कर देते है|

Shri Shani Chalisa with Meaning in Hindi PDF

Shri Shani Chalisa with Meaning in Hindi
PDF Nameशनि चालीसा अर्थ सहित PDF
Languageसंस्कृत
No. of Pages15
PDF Size0.65 MB
CategoryReligion & Spirituality
QualityExcellent

शनिदेव को भगवन सूर्यदेव का पुत्र माना जाता है और इसको कर्मफल दाता का उपाधि दिया गया है, ऐसा कहा जाता है कि शनिदेव लोगों को उसके कर्मों के अनुसार फल देते है अगर कोई व्यक्ति अच्छे कर्म करते है तो उन्हें अच्छा फल देते है वहीं अगर कोई व्यक्ति ख़राब कर्म करते है तो उन्हें फल भी ख़राब देते है|

सनातन धर्म के अनुसार अगर कोई व्यक्ति बुरे कर्म करते है और उनके ऊपर शनिदेव का प्रकोप शुरू हो जाता है तो शनिदेव उन्हें बहुत ही कष्ट देते है| शनिदेव बुरे कर्म करने वालो को जितना सघन सजा देते है उसके विपरीत अच्छे कर्म करने वालों को बहुत सुखमय जीवन भी प्रदान करते है|

आसान शब्दों में कहा जाये तो शनिदेव लोगों के कर्मों के अनुसार उन्हें उचित फल देते है और प्रकृति का संतुलान बनाये रखता है| कुछ-कुछ जगह शनिदेव से लोग काफी डरते है जो बिलकुल भी सही नहीं है क्योंकि शनि देव से ही हमलोग मोक्ष प्राप्त कर सकते है|

इसीलिए हमे शनिदेव का पूजा अवश्य करना चाहिए और शनि चालीसा का पाठ करना बहुत ही लाभकारी माना जाता है|

शनि चालीसा पाठ करने का विधि

  • शनिदेव का पूजा प्राय शनिवार को ही होता है और अधिकत्तर पुरुष ही शनिदेव का पूजा करते है|
  • शनिदेव का पूजा करने के लिए सबसे पहले सुबह नहा-धोकर काला कपड़ा पहन ले|
  • शनि देव का काला कपड़ा पसंद है इसीलिए काला वस्त्र ही धारण करें|
  • उसके बाद मंदिर जेक शनि देव का पूजा करें उन्हें फुल अर्पित करें और थोड़ा देर ध्यान लगायें|
  • और शनि चालीसा का पाठ करें|
  • उसके बाद गरीबों तथा असहाय को यथासंभव भोजन अवश्य कराएँ|
  • शनिवार को कभी भी सरसों का तेल ना ख़रीदे|

Download शनि चालीसा अर्थ सहित PDF

शनि चालीसा को अर्थ सहित डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए डाउनलोड बटन का अनुसरण करें|

आज के इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपके साथ Shri Shani Chalisa with Meaning in Hindi PDF शेयर किया, उम्मीद है कि इस पोस्ट में शेयर की गयी जानकारी तथा पीडीऍफ़ दोनों को आपको पसंद आया होगा| अगर पोस्ट पसंद आया तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करें|

Related Post-

Suraj Sharma

Suraj Sharma is a Author of this blog who writes Education related information in simples languages so that every students can understand easily.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *