मराठा साम्राज्य के पतन के कारण

Maratha Samrajya ke Patan Ke Karan: ज के इस पोस्ट के माध्यम से हम मराठा साम्राज्य के पतन के कारण पर प्रकाश डालेंगे और विस्तार से चर्चा करेंगे की आखिर क्यों 1800 ईस्वी के बीच में ही मराठों के विशाल साम्राज्य का पतन हो गया|

इस पोस्ट का मकसद आपतक बिलकुल आसान भाषा में मराठा साम्राज्य के पतन होने के कारणों को समझाना है| अगर आप इत्तिहास विषय में अपना दिल्चस्वी रखते है तो आप मराठाओ के ताकत के बारे में भलीभांति जानते होने लेकिन आख्ती इस्टे शक्ति शाली साम्राज्य के पतन कैसे सम्भव हुआ आइए इसपर नज़र डालते है|

मराठा साम्राज्य के पतन के कारण

  1. विशाल साम्राज्य का ढीला ढाला शासन
  2. योग्य नेता का अभाव
  3. दोषपूर्ण सैनिक संगठन
  4. आर्थिक व्यवस्था का अभाव
  5. देशी राजाओं का असहयोग
  6. भोगोलिक ज्ञान का अभाव
  7. विदेशी शक्ति पर निर्भरता
  8. राष्ट्रीयता का अभाव
  9. सामंती प्रथा
  10. सामुद्रिक शक्ति की कमी
  11. कूटनीतियाँ
  12. ढीला ढाला गुप्तचर व्यवस्था1

1. विशाल साम्राज्य का ढीला ढाला शासन

मराठाओ के विशाल साम्राज्य में शासन व्यवस्था का ढीला होना मराठा सरदारों में आपसी एकता, अनुशासन तथा राष्ट्रीय भावना के अभाव का कारण बना, जिसका नतीजा यह हुआ कि इस समय पेशवा केवल नाम मात्र का ही रह गया| सारे सरदार जैसे लिंघिया, गायकवाड तथा होल्कर आपस में ही एक दुसरे से घिरिना करने लगे, और एक दुसरे को निचा दिखने का प्रयास करते रहे जो आगे चलर मराठाओ के पतन के कारण बना|

2. योग्य नेता का अभाव

जब तक मराठो के नेता योग्य से तब तक मराठा एक सूत्र में बंधे थे और इनकी शक्ति का गुणगान लगभग पुरे विश्व में हुआ करता था, लेकिन 19वीं सदी के शुरुआत तक ही उनके योग्य नेताओं की मृत्यु हो गयी और उनके बाद ऐसा कोई शासक नहीं था जो इन्ते बड़े साम्राज्य को सही ढंग से संभाल पाते इसका नतीजा यह हुआ की मराठाओ में शक्ति का अभाव होने लगा और इतने बड़े साम्राज्य होने के बाद भी इसका पतन बहुत ही सरलता से हो गया|

3. दोषपूर्ण सैनिक संगठन

मराठो के सैनिक के पाद किसी भी तरह का कोई आधुनिक हथियार नहीं था या था भी तो उनकी संख्या बहुत ही कम थी| मराठा सैनिक सिर्फ गुरिल्ला लड़ाई में ही माहिर थे| फलस्वरुप युध्य में अंग्रेजी सैनिक के तोपों और बन्दूको के सामने मराठा सैनिक की शक्ति कमजोर पर गयी जो मराठा साम्राज्य के पतन का प्रमुख कारण बना|

4. आर्थिक व्यवस्था का अभाव

मराठो की आर्थिक स्थिथि दयनीय थी क्युकि इतना आर्थिक व्यवस्था निश्चित नहीं था ये सिर्फ कर (Tax) पर ही निर्भर थे| जिसके कारण इसनी आर्थिक स्थिथि कमजोर पड़ने लगा|

5. देशी राजाओ का असहयोग

युद्ध के समय मराठाओ को आसपास के राजाओं का सहयोग प्राप्त नहीं हुआ| क्युकि मराठा अपना साम्राज्य चलाने के लिए अपने आस-पास के राज्यों में लुट-पात करते रहते थे| जो की आगे जाकर मराठो के पतन का कारण बना|

6. भौगोलिक ज्ञान का अभाव

मराठो को अपने प्रदेश के बारे में ही पूरा भौगोलिक ज्ञान नहीं था की उसका क्षेत्र किस प्रकार फैला हुआ है| जिससे कारण युद्ध के समय मराठो को बहुत कठिनाइयों का सामना करना परा| यह भी मराठा के पतन का एक कारण बना|

7. विदेशी शक्ति पर निर्भरता

मराठा अपनी प्रदेश की सुरक्षा के लिए अपने देश के राजाओ से ज्यादा विदेशी शक्ति पर निर्भर थे| युद्ध के समय विदेशी शक्ति का साथ नहीं मिल पाना भी इनके पतन का कारण बना|

8. राष्ट्रीयता का अभाव

मैराथन में शिवाजी के नाद से ही लगभग राष्ट्रीयता की भावना का अभाव देखने को मिला इसका नतीजा यह हुआ की इतने बड़े साम्राज्य का परं भुत ही सरलता से हो गया |

9. सामंती प्रथा

मराठा साम्राज्य सिर्फ सामंती व्यवस्था पर निर्भर था| इनमे जातीय अभिमान तथा सामान्यता का अभाव था लोग राष्ट्रिय हितो की तुलना व्यक्तिगत हितो पर विशेष ध्यान देने लगे|

10. सामुद्रिक शक्ति की कमी

मराठा शुरू से ही समुंद्री शक्ति को नज़रन्दाज करते रहे| जिसके कारण उनकी समुंद्री सेन्य बहुत ही कमजोर था जो आगे चलकर अंग्रेजों से युद्ध हारने का एक कारण बना|

11. कूटनीतियाँ की कमी

कूटनीति के मामले में मराठा शुरू से ही अंग्रेजो से पीछे था| अंग्रेज कूटनीति में काफी कुशल से जिसके कारण उन्होंने मराठा को परास्त किया|

12. ढीला ढला गुप्तचर व्यवस्था

किसी भी युद्ध को जीतने के लिए गुप्तार की भूमिका बहुत ही महत्वपूर्ण होती है| और यह कहा जाता है कि मराठा की गुप्तचर व्यवस्था अच्छी नहीं थी| जिसके कारण अंग्रेजो के द्वारा लिए जाने वाले कदम की जानकरी मराठा तक समय में पहुच नहीं पाती थी| लेकिन वही अंग्रेजों के पास कुशल गुप्तचर व्यवस्था होने के कारण उन्हें मराठा के कार्ड की जानकारी पहले से ही मिल जाती थी, परिणाम स्वरूप अंग्रेजो ने मराठा को युद्ध में पराजित कर दिया और मराठा साम्राज्य का पतन हो गया|

निष्कर्ष

आज के इस पोस्ट के माध्यम से हमने वह अआरे कारणों पर प्रकश डाला जो मराठा साम्राज्य के पतन का कारण बना| आशा करता हूँ कि आप आसानी से Maratha Samrajya ke Patan Ke Karan को समझ पाए| अगर आपको इस पोस्ट से कुछ सिखने को मिला तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे| और इसी तरह के पोस्ट को आगे भी पढने के लिए हमारे इस ब्लॉग को visit करते रहे| धन्यवाद्!

Writing Team

Leave a Reply

Your email address will not be published.